Khandwa: खेत में खड़ी फ़सल पर JCB चलना सह न कर सका बुजुर्ग किसान, कीटनाशक पीकर दी जान

Khandwa: खेत में खड़ी फ़सल पर JCB चलना सह न कर सका बुजुर्ग किसान, कीटनाशक पीकर दी जान


हरेंद्र नाथ ठाकुर

खंडवा. मध्य प्रदेश के खंडवा में 60 वर्षीय किसान ने अपने खेत में कीटनाशक पीकर आत्महत्या कर ली. घटना पंधाना विधानसभा अंतर्गत तोरनी गांव की है. मिली जानकारी के मुताबिक मृतक किसान लालू वासले तालाब निर्माण करने वाली कंपनी के अधिकारियों की प्रताड़ना का शिकार था. किसान का खेत खरगोन जिले में आता है. उसके खेत को तालाब निर्माण करने वाली कंपनी ने अधिग्रहण किया था. तालाब निर्माण का काम नहीं होने से किसान लालू वासले ने अपने खेत में चना और गेहूं की बुवाई की थी.

हालांकि, किसान को उसके खेत का मुआवजा मिल चुका है, लेकिन तालाब निर्माण में देरी होने से उसने अधिकारियों से फसल बोने की अनुमति ले ली थी. अब जबकि खेत में फसल तैयार है, तो तालाब बनाने वाली कंपनी किसान के खेत पर तालाब बनाने के लिए आमदा थी. किसान पर खेत से फसल हटाने के लिए दबाव बनाया जा रहा था. किसान और उसका परिवार अधिकारियों से कई बार मिन्नतें कर चुका था कि उसे थोड़ा समय दिया जाए. फसल कटने के बाद उसके खेतों में जेसीबी चलाई जाए, लेकिन गुहार को दरकिनार करते हुए किसान के खेत में जेसीबी चला दी गई.

जेसीबी को अपनी फसल रौंदता देखकर किसान लालू वासले हताश और परेशान हो गया. आहत होकर उसने अपने खेत में ही कीटनाशक पी लिया. किसान के कीटनाशक पीने की सूचना मिलते ही उसका बेटा और पोते वहां पहुंचे. परिजनों के द्वारा आनन-फानन में बुजुर्ग किसान को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टर ने उसको मृत घोषित कर दिया.

इस घटनाक्रम को लेकर खंडवा के एसडीएम अरविंद चौहान ने जांच करने की बात कही है. लोगों का कहना है कि खंडवा सहित पूरे मध्य प्रदेश में कई ऐसे प्रोजेक्ट हैं जो लेट चल रहे हैं. ऐसे में अगर तालाब खुदाई का काम 15 दिन बाद किया जाता तो कौन सी बड़ी आफत आ जाती.

मृतक के परिवारवालों का कहना है कि कंपनी ने किसके दवाब में आकर उनके खेतों में खुदाई कराई है. इसके कारण उनका परिवार उजड़ गया. इस मामले में गंभीरता से जांच होनी चाहिए.

Tags: Crop Damage, Farmer Suicide, Khandwa news, Mp news



Source link

Leave a Reply